एक्शन कोरियोग्राफर प्रतीक परमार के सूर्यांश को भारी प्रशंसा मिली

वर्ष की सबसे अनुमानित गुजराती फिल्म सूर्यांश, 5 अक्टूबर को सिनेमाघरों में रिलीज हुई। फ्रेडी दारुवाला और हीना अचरा की अभिनित, गुजराती सिनेमा में अपनी तरह की एक फिल्म है, जहां इसकी कहानी एक्शन के इर्द गिर्द घूमती नज़र आती है।

फिल्म में अविश्वसनीय एक्शन दृश्यों का श्रेय जाता है प्रतीक परमार को। परमार एक प्रशिक्षित मार्शल आर्ट्स प्रैक्टिशनर है, जिन्होंने भावेश जोशी सुपरहीरो, सीआईडी, सूर्य द सुपरकॉप में एक्शन दृश्यों को कोरियोग्राफ किया है। उनके द्वारा डिजाइन किए गए एक्शन दृश्यों के बारे में बात करते हुए, वह कहते हैं, ” मैं एक्शन डायरेक्शन को एक पहचन दिलाना चाहता था।इसमें से अधिकांश एक्शन पश्चिमी एक्शन फिल्मों और आइकनों से प्रेरित है। मुझे खुशी है कि दर्शकों ने इस तरह कुछ नया पसंद किया।”

ट्रेलर लॉन्च के बाद से ही सूर्यांश लोगो में एक जिज्ञासा का भाव जगा चुका था। यह एक रोमांचकारी रोलर कोस्टर सवारी, की तरह है जिसका अंत अप्रत्याशित होने की वजह से एक रहस्मयी भावना को जगत हौ।” दर्शकों ने प्रतीक परमार द्वारा डिजाइन किए गए एक्शन दृश्यों की बहुत सराहना की ।

परमार पेशेवर विंग चुन, कराटे, तायक्वोंडो और वुशु में प्रशिक्षित है। वह कई सालों से मार्शल आर्ट्स का अभ्यास कर रहे है और एक राष्ट्रीय स्तर के स्वर्ण पदक विजेता भी है । वह बिना किसी बाहरी उपकरणों के सबसे साहसी स्टंट कर सकते है।

प्रतीक को वसन बाला द्वारा निर्देशित और रोनी स्क्रूवाला द्वारा निर्मित ‘ मर्द को दर्द नही होता’ में एक कलाकार के रूप में भी देखा जाएगा। ये फिल्म 2018 टोरंटो इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (टीआईएफएफ) में पीपल्स चॉइस मिडनाइट मैडनेस पुरस्कार जीतने वाली पहली भारतीय फिल्म थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *